Press "Enter" to skip to content

सिर्फ गौरक्षकों पर ही होंगे सवाल, गौ तस्करों से भी तो पूछो सवाल, क्यों कर रहे अपराध

देश के अन्दर गौरक्षको का नाम लेकर हिन्दू समाज को टारगेट करने की मुहीम सी चलाई जा रही है, अलवर में पिछले दिनों अकबर खान नामक गौ तस्कर की हत्या कर दी गयी 

पहले आपको बता दें की मीडिया के अनुसार अकबर खान एक किसान था, और बहुत ही मासूम तथा निर्दोष था, पर मीडिया आपको नहीं बता रही है की अकबर खान एक गौ तस्कर भी था, और उसके ऊपर गौ तस्करी के पुराने केस भी थे 

अकबर खान दूध का कारोबार नहीं करता था, और गौ तस्करी के केस भी थे उसके ऊपर, और गाय ले जाने के लिए वो रात का ही समय चुनता है, सभी लोग गौ रक्षको पर तो सवाल उठा रहे है, पर कोई ये नहीं पूछ रहा की अकबर मियां आधी रात को गाय लेकर कहाँ जा रहे थे, किस उद्देश से गाय को ले जा रहे थे 

हरियाणा हो राजस्थान हो या देश के तमाम इलाके, गौ तस्करों के हाथों कई गौ रक्षको और यहाँ तक की पुलिस वालो की भी हत्या की गयी है, हरियाणा के अलावा उत्तर प्रदेश और राजस्थान और देश के तमाम इलाकों में गौ तस्करों के हथिन लोगों की और पुलिस वालो की हत्या की गयी है 

loading...

पर गौ रक्षको पर सवाल उठाने वाले लोग गौ तस्करों पर कभी सवाल नहीं उठाते, गौरक्षक आखिर सड़क पर निकलते ही क्यों है ? क्यूंकि गौ तस्करी होती है, सबसे पहला सवाल तो ये पूछा जाना चाहिए की अकबर खान जैसे लोग गौ तस्करी कर अपराध और समाज में नफरत क्यों फैलाते है, ये लोग गौ तस्करी क्यों नहीं बंद करते 

गौ तस्करी कई राज्यों में अपराध है, कानूनन अपराध होने के साथ साथ गाय बहुसंख्यक समाज की भावना से भी जुडी हुई है, फिर भी अकबर खान जैसे लोग अपराध करते है, ये लोग अपराध क्यों नहीं बंद करते, गौ तस्करों पर सवाल क्यों नहीं उठाया जाता, आखिर ये लोग अपराध बंद क्यों नहीं कर रहे है, ये लोग समाज में नफरत क्यों फैला रहे है 

अकबर खान के परिवार से मीडिया क्यों नहीं पूछ रही की अकबर खान गौ तस्करी क्यों करता था, क्या वो नहीं जनता था की गौ तस्करी अपराध है, और साथ ही साथ समाज में इस से नफरत फैलती है, ये सब जानते हुए भी अकबर खान जैसे लोग अपराध और नफरत क्यों फैला रहे है 

जब गौ तस्करी बंद होगी, अपराध बंद होगा, तो कौन गौरक्षक बनेगा, ताली दोनों हाथों से बजती है 1 हाथ से नहीं – पहले गौ तस्करी छोडें अकबर खान जैसे लोग, समाज में नफरत न फैलाएं, कोई भी आदमी गौरक्षक बनेगा ही नहीं 

More from कडवी बातMore posts in कडवी बात »
More from ताज़ा खबरMore posts in ताज़ा खबर »

Be First to Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.