Press "Enter" to skip to content

भारत कोई धर्मशाला नहीं, बाहर करो रोहिंग्यों बांग्लादेशियों को : कुमार विश्वास

भले ही ये बयान कुमार विश्वास ने दिया है, जो की एक सेक्युलर यानि एक देश विरोधी नेता रह चुके है, अपर अगर कोई चीज देश के हित में है तो दैनिक भारत पर उसे पाठको के सामने जरुर रखा जायेगा

नोट – हम हर सेक्युलर नेता को देशद्रोही और इस्लामिक आतंकवादियों से भी ज्यादा बड़ा खतरा मानते, है और सेक्युलर नेता हर पार्टी में है चाहे वो कोई भी पार्टी हो

असम में सरकार ने 40 लाख अवैध बांग्लादेशियों की पहचान की है, और अब उनपर आगे की कार्यवाही भी कुछ दिनों में आरंभ हो सकती है, देश भर के सेक्युलर नेता अब अवैध बांग्लादेशियों के समर्थन में आ गए है

कुछ का तर्क ये है की बंगलादेशी बहुत दिनों से रह रहे है इसलिए सभी का भारत पर अधिकार है, तो कुछ कह रहे है की बीजेपी अत्याचार कर रही है, तो कुछ तो सड़क पर संघर्ष करने की भी धमकी दे रहे है, कुल मिलाकर तमाम तरह के देशद्रोही सेक्युलर तत्व अवैध घुसबैठियों के समर्थन में आ गए है

पर कुमार विश्वास ने एक अच्छा बयान दिया है, उन्होंने जो कहा पहले आप उनके शब्दों में ही देखिये

 


भारत कोई धर्मशाला नहीं है, भारत एक देश है जहाँ पहले से ही बहुत सी समस्या है, गरीबी है, ऐसे में भारत अवैध घुसबैठियों का बोझ नहीं झेल सकता, पर देश के सेक्युलर नेताओं को देश की फिकर नहीं है

सेक्युलर नेताओं का मुख्य मिशन है भारत का इस्लामीकरण और इसाईकरण और साथ ही सत्ता और इसी कारण ये लोग भारत के हित को ताक पर रखकर अवैध रोहिंग्यों और बांग्लादेशियों का समर्थन कर रहे है

देश के लिए जितना घातक ये अवैध बंगलादेशी और रोहिंग्या है उस से कहीं ज्यादा घातक तो देशद्रोही नेता है जो इन अवैध घुसबैठियों का समर्थन कर रहे है, और देश की आम जनता को इन देशद्रोही नेताओं को चुनाव में सबक सिखाने की जरुरत भी है

More from ताज़ा खबरMore posts in ताज़ा खबर »

2 Comments

  1. Deepak

    Ha bahar kro saalo Ko vrna Baad m ye hii akad dikhaye ge

Leave a Reply

Your email address will not be published.