Press "Enter" to skip to content

भारत के PM दुनिया भर के लिए गुड गवर्नेंस की मिसाल है, उनसे सीखना चाहिए : अमरीकी प्रोफेसर

मोदी विरोधी चाहे जो भी कहे एक बात कड़वा सच है की जब से नरेंद्र मोदी भारत के प्रधानमंत्री बने है दुनिया में भारत की छवि मजबूत हुई है, और भारत को अब दुनिया के हर मंच पर अधिक मान मिलता है

भारत को मोदी ने मजबूत किया है, और ये दुनिया का वसूल है – यहाँ मजबूत को ही सम्मान आदर सत्कार मिलता है, मोदी जब से प्रधानमंत्री बने है तब से भारत चीन से जीडीपी विकास दर में हर साल आगे है

वर्तमान में चीन की जीडीपी विकास दर 6.6% है तो भारत की 7.3%, इसके अलावा दुनिया भर की तमाम अगेंसियाँ चाहे वो वर्ल्ड बैंक हो, IMF हो, ये सब भारत में निवेश को लेकर लालायित रहते है, क्यूंकि सबको दीखता है की भारत की नीतियां अब बेहद अच्छे ढंग से चल रही है और भारत का तेजी से विकास हो रहा है

इन्ही नीतियों के कारण भारत इज ऑफ़ डूइंग बिज़नस में भी तेजी से ऊपर आया है, अमेरिका के एक बड़े प्रोफेसर है जिनका नाम है इयान बेर्म्मेर, ये दुनिया भर में बड़े बड़े संस्थानों में पढ़ाते है इनका काफी नाम है

इयान बेर्म्मेर ने भारत के प्रधानमंत्री मोदी की अपने एक लेक्चर में जमकर तारीफ की है और कहा है की मोदी गुड गवर्नेंस की मिसाल है और दुनिया भर के देशों को मोदी से सीखना चाहिए की देश को कैसे चलाया जाता है

यानि मोदी जिस तरह भारत को चला रहे है और भारत उनकी नीतियों के कारण तेजी से बढ़ रहा है मजबूत हो रहा है, ये दुनिया भर के लिए एक सीख है, और दुनिया के जो देश जूझ रहे है वो मोदी से सीख सकते है की किस तरह देश को सही रास्ते पर लेकर चलना है

 


इयान बेर्म्मेर बता रहे है की साफ़ सुथरी सरकार, प्रशासन, कूटनीति किस तरह किया जाता है ये भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से सीखा जा सकता है, मोदी एक मिसाल है और उनसे सीखने के लिए बहुत कुछ है

दुनिया भर में मोदी की तारीफ होती है, भारत की तारीफ होती है, पर देश के अन्दर के सेकुलरों और वामपंथियों को मोदी में खराबी नजर आती है, कारण ये है की मोदी की नीतियों के कारण न केवल भारत तेजी से बढ़ रहा है बल्कि भारत के सेक्युलर और वामपंथी भी तेजी से साफ़ हो रहे है, और तभी मोदी जिनके काम की दुनिया तारीफ कर रही है उनकी भारत के सेक्युलर और वामपंथी आलोचना करते है

More from अच्छी खबरMore posts in अच्छी खबर »

Be First to Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.