Press "Enter" to skip to content

आतंकी इतिहास को मिटाया स्वाभिमान को लौटाया, धन्य हो योगी जी, धन्य हो वो माँ जिसने ऐसा सपूत जन्मा

आख़िरकार मुगलसराय स्टेशन का नाम बदलकर पंडित दीनदयाल उपाध्याय जंक्शन कर ही दिया गया, वैसे फैसला तो काफी समय पहले ही हो गया था, पर आज का वो दिन है जब आतंक की निशानी “मुगलसराय” नाम को पूरी तरह हटा दिया गया

आज से स्टेशन का नाम महान स्वतंत्रता सेनानी पंडित दीनदयाल उपाध्याय जंक्शन होगा, ये कोई छोटी मोटी बात नहीं है, सिर्फ स्टेशन का एक नाम हटाकर दूसरा नाम कर दिया जाना, ये मामला यहीं तक नहीं है

ये आतंक की निशानी को मिटाकर स्वाभिमान की पताका को लहराने की घटना है, इसका तमाम सेकुलरों ने विरोध किया था क्यूंकि वो आतंक की निशानियों को अपनी धरोहर मानते है

Loading...

हम बचपन से ही मुगलसराय स्टेशन का नाम सुनते थे, ये काफी बड़ा स्टेशन है, पर हमेशा सोचते थे की आखिर इस स्टेशन का नाम मुगलसराय क्यों है, मुग़ल तो भारत में हमलावर थे, हमेशा ये चीज हमारे मन को कचोटती थी

मुगलसराय आतंक की निशानी थी, और आतंक की इस निशानी को मिटाने का श्रेय परम पूजनीय महंत योगी आदित्यनाथ जी को जाता है जो की उत्तर प्रदेश के वर्तमान मुख्यमंत्री है

कुछ लोग कहते है की नाम बदलने से क्या होगा, ये वो लोग है जिनके अन्दर स्वाभिमान की कोई भावना नहीं होती, ये लोग तो लाभ के लिए धर्म बदल ले, तो इनको नाम से क्या आपत्ति हो सकती है

जिन लोगों में स्वभिमान होता है वो ही समझ सकते है की नाम क्या चीज होती है, क्या आप खुद को मुगलों की औलाद कहलाना पसंद करेंगे, जिन लोगों में स्वाभिमान है वो बिलकुल नहीं, पर जिन लोगों में स्वाभिमान नहीं होता उनको तो कुछ फर्क नहीं पड़ता

योगी इस से पहले भी नामो को बदलते आये है, उनके पास जितनी शक्ति होती है वो अपना काम करते ही है, जब वो सांसद थे तो गोरखपुर में आतंक की निशानियों को मिटाया करते थे, जब वो मुख्यमंत्री बने तो उत्तर प्रदेश से धीरे धीरे आतंक की निशानियों को मिटा रहे है

loading...

मुग़लसराय को उन्होंने मिटवा दिया, आतंक की एक और निशानी “इलाहबाद” भी अब बस कुछ ही दिन रहेगा, इसका नाम भी प्रयागराज करने का निर्णय लिया जा चूका है, और जल्द ही लखनऊ भी “लक्ष्मणपूरी” होगी

धन्य हैं वो माता जिसने योगी जैसे सपूत को जन्मा है, हमारे स्वाभिमान को लौटने वाले योगी की जितनी प्रशंसा की जाये वो कम है, समाज के स्वाभिमान, देश के स्वभिमान को योगी वापस स्थापित करने का काम कर रहे है और उनके कामो के लिए समाज और देश उनको हमेशा याद रखेगा, कोई तो ऐसा नेता आया जिसने स्वाभिमान की स्थापना के काम किये, धन्य हों योगी जी

More from अच्छी खबरMore posts in अच्छी खबर »

Be First to Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.